- Advertisement -

- Advertisement -

रघुवंश की जिद्द के आगे झुक गए तेजस्वी यादव, रामा सिंह की RJD में एंट्री पर लग गई रोक

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

रिपोर्ट : अभीषेक कुमार

 

प्रदेश आजतक : आरजेडी में रघुवंश प्रसाद को लेकर मची रार अब खत्म होते नजर आ रही है. रघुवंश के लीड के लेने के बाद तेजस्वी को यादव को बैकफुट पर आना पड़ा  है. राजद चीफ लालू यादव से डायरेक्ट बातचीत के बात रघुवंश प्रसाद की जीत हुई. रघुवंश की नाराजगी के बाद अब रामा सिंह की राजद में एंट्री पर रोक लग गई है.

आरजेडी में रघुवंश प्रसाद को लेकर मची रार अब खत्म होते नजर आ रही है. रघुवंश के लीड के लेने के बाद तेजस्वी को यादव को बैकफुट पर आना पड़ा  है. राजद चीफ लालू यादव से डायरेक्ट बातचीत के बात रघुवंश प्रसाद की जीत हुई. रघुवंश की नाराजगी के बाद अब रामा सिंह की राजद में एंट्री पर रोक लग गई है.

रघुवंश के समाने नहीं चली तेजस्वी यादव की
दरअसल, लोजपा छोड़कर RJD में आने का सपना संजोए रामा सिंह को सोमवार को ही पार्टी की सदस्यता ग्रहण करनी थी, लेकिन आनन-फानन में इस कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया है. रामा की एंट्री पर बवाल पार्टी के कद्दावर नेता और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह के विरोध से शुरू हुआ था.

इसके बाद तेजस्वी ने पार्टी में डैमेज कंट्रोल की नीति को अपनाते हुए यह फैसला लिया है.कुछ दिन पहले ही तेजस्वी यादव से मुलाकात कर RJD ज्वाइन करने की घोषणा करने वाले रामा सिंह 29 जून को ही लाव लश्कर और समर्थकों के साथ पटना आने वाले थे. यहां वह आरजेडी ज्वाइन करने वाले थे, लेकिन फिलहाल उनकी राजद में इस ज्‍वाइनिंग को टाल दिया गया है. जानकारी के मुताबिक रामा सिंह की एंट्री का मामला इतना तूल पकड़ने लगा है कि इस मामले में पार्टी के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को हस्तक्षेप करना पड़ा है.

रामा की इंट्री से नाराज होकर रघुवंश प्रसाद सिंह ने पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद से उनको मनाने का दौर जारी है. दरअसल, यह लड़ाई दोनों राजपूत नेताओं के बीच वर्चस्व और राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता को लेकर है. रामा सिंह ने रघुवंश प्रसाद सिंह को लोकसभा के चुनाव में करारी शिकस्त दी थी. यही कारण है कि वह उनकी एंट्री का पार्टी में विरोध कर रहे हैं. दूसरी ओर राजद सवर्ण के रूप में रामा सिंह को एक बड़े चेहरे के रूप में देख रही है, लिहाजा 2020 से पहले तेजस्वी उनको अपनी पार्टी में शामिल करने का मन बना चुके हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...