- Advertisement -

सोनभद्र : धूमधाम से मनाया गया शनि जन्मोत्सव, रोग दोष शोक निवारण हेतु किया शनि महायज्ञ।

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

रिपोर्ट : रामाश्रय बिंद

 

प्रदेश आजतक : ओबरा सोनभद्र न्याय के मुख्य देवता सूर्यपुत्र शनिदेव का जन्मोत्सव 4 मई शनि अमावस्या को ओबरा नगर स्थित शनि मन्दिर प्रांगण में शनि शक्तिपीठ के महंत श्री बाल योगेश्वरानंद शनि महाराज के सानिध्य में मनाया गया. जिसमे प्रातः शनिदेव का सरसो के तेल से अभिषेक कर श्रृंगार किया गया व उन पर तिल, नारियल, चना, गुड़,लोहे का छल्ला व काला वस्त्र अर्पित किया गया. इसके पश्चात दोपहर भर वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ रोग,दोष, शोक, निवारण व शनि ग्रह शान्ति हेतु बृहद रुप से यज्ञ का कार्यक्रम किया गया व सांय में शनिदेव के गीत, भजन,महाआरती के कार्यक्रम के बाद केक काटकर शनिदेव का जन्मोत्सव बड़े धूमधाम से मनाया गया.

फिर श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरण कर कार्यक्रम का समापन किया गया. इस अवसर पर मन्दिर के महंत ने कहा कि शनिदेव को बुरे ग्रहों में नही गिना जाता वे व्यक्ति को किसी भी प्रकार से नुकसान नही पहुँचाते हैं. शनिदेव कठिन परिश्रम,अनुशासन, निर्णय लेने की क्षमता आदि गुणों के लिए जाने जाते है शनिदेव मनुष्य के इसी गुणों से प्रभावित होकर फल देते है. जो लोग ऐसा नही करते है उन्हें ही अपने जीवन मे बाधाओं का सामना करना पड़ता हैं. इसलिए शनिदेव को कर्म का फल देने वाले देवता के नाम से भी जाना जाता हैं. कार्यक्रम में के एन सिंह, कमलेश उपाध्याय,दिनेश पाण्डेय, राजेन्द्र प्रसाद उपाध्याय,महेश देव पाण्डेय,राम कुण्डल पाण्डेय सहित तमाम भक्तगण उपस्थित रहें.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...