- Advertisement -

बिहार : कैमूर का साइबर ठग नोएडा से गिरफ्तार, डाटा हैक कर 200 करोड़ का किया था फ्रॉड

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

रिपोर्ट : अभिषेक कुमार

 

प्रदेश आजतक : पश्चिमी यूपी एसटीएफ ने फर्जी कॉल सेंटरों को ठगी करने के लिए आम लोगों का डाटा बेचने वाले गिरोह के सरगना को गिरफ्तार किया है. एसटीएफ के सहायक पुलिस अधीक्षक विशाल विक्रम ने बताया कि देशभर में ग्राहकों का डाटा हैक करके ठगी करने की शिकायतें प्राप्त हो रही थीं. पठानकोट, बैंगलुरु, चंडीगढ़, रायपुर, बीकानेर और यूपी के लोगों से ठगी की जा रही थी. एसटीएफ ने इन ठगों को गिरफ्तार करने के लिए साइबर मुखबिरों को सक्रिय कर दिया.

पुलिस अधीक्षक विशाल विक्रम ने बताया, इस क्रम में शनिवार को सेक्टर-142 स्थित अंसल काॅरपोरेट पार्क से एक साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया गया. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपी की पहचान बिहार के कैमूर निवासी नंदन राव पटेल के तौर पर हुई है. इसके पास से 14 लाख ग्राहकों का डाटा, दो मोबाइल, लैपटॉप, चार डेबिट कार्ड, 6 चेकबुक आदि बरामद हुई हैं.

पुलिस ने बताया कि पटेल शॉपिंग कंपनियों के कर्मचारियों से साठगांठ कर प्रति व्यक्ति का डाटा 2-3 रुपये में खरीद लेता था. इस डाटा को देश भर के फर्जी कॉल सेंटरों को 5 से 6 रुपये प्रति व्यक्ति की दर से बेच देता था. आरोपी खुद भी वेबसाइटों को हैक कर डाटा चोरी करता था. कॉल सेंटरों से ऑनलाइन शॉपिंग, बीमा कराने, लकी ड्रा निकलने आदि के नाम पर लोगों से ठगी जा रही थी.

आरोपी के पास 14 लाख ग्राहकों का डाटा बरामद हुआ है. यह गैंग अब तक करीब 200 करोड़ रुपये की ठगी कर चुका है. आरोपी अब तब देशभर के नागरिकों से 200 करोड़ रुपये से भी अधिक की ठगी कर चुके हैं. पुलिस ने बताया कि आरोपी के साथ काम करने वाले एक दर्जन से ज्यादा लोग फरार हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...